What is Dos? Internal And External Commands of Dos.

DOS का पूरा नाम डिस्क ऑपरेटिंग सिस्टम है, यह ऑपरेटिंग सिस्टम डिस्क को ऑपरेट करता है, इसलिए डिस्क ऑपरेटिंग सिस्टम कहलाता है। यह एक single-user तथा नॉन ग्राफिकल यूजर इंटरफ़ेस ऑपरेटिंग सिस्टम है, अर्थात इस ऑपरेटिंग सिस्टम में कोई भी इंटरफेस ग्राफिक के रूप में ना होकर टेक्स्ट के रूप में रिप्रेजेंट करता है इसलिए यह टैक्सटिकल यूजर इंटरफ़ेस ऑपरेटिंग सिस्टमभी कहलाता है। इस Operating System को एक समय में केवल एक ही यूजर किसी एक टास्क पर ही कार्य कर सकता है इसलिए यह single-user Operating System के अंतर्गत आता है।
MS-Dos का पूरा नाम Microsoft disk Operating System है, आइबीएम Compatible Computer System के लिए एमएस Dos Microsoft कंपनी द्वारा विकसित और प्रचलित किया गया है, जोकि माइक्रो कंप्यूटर में प्रयुक्त होता है।
PC Dos Originally Digital Research द्वारा विकसित किया गया है परंतु वर्तमान में Novell कंपनी द्वारा अधिकृत कर लिया गया है इसी कारण से इसे Novell Dos भी कहा जाता है।
Versions of Dos(Dos के संस्करण)
अन्य सॉफ्टवेयर की तरह ही Disk Operating System के भी अलग-अलग संस्करण बाजार में प्रचलन में है, वर्तमान में डॉस के संस्करण 1 से 6 तक मार्केट में प्रचलित हो चुके हैं, जिसमें वर्तमान कि सबसे नवीनतम संस्करण 6.22 है।नई नई संस्करण आने के साथ ही नए कमांड्स और फीचर्स जुड़ते गए हैं, साथ ही सभी उच्च वर्जन में न्यू वर्जन के कमांड अवेलेबल है।
Commands Of Dos –
A. Internal Commands           B. External Commands
A. Internal Commands-
Internal Commands वे कमांड्स होते हैं जिन्हें एग्जीक्यूट करने के लिए कोई अतिरिक्त फाइल की आवश्यकता नहीं होती है, यह कमांड Command.com से रन होते हैं। यह कमांड एमएस डॉस के साथ सदैव अवेलेबल रहती है जब तक कि सिस्टम को बंद न कर दें, क्योंकि यह कमांड्स बूटिंग के समय ही मेमोरी में ऑटोमेटिक लोड हो जाती हैं।

1. Date Command
Dos में इस कमांड का प्रयोग वर्तमान दिनांक को देखने या बदलने के लिए किया जाता है इसका फॉर्मेट mm_dd_yy होता है।
Syntax- C:\>date↵
Date Command
2. Time
इस कमांड का प्रयोग वर्तमान समय को देखने या बदलने के लिए किया जाता है।
Syntax- C:\>time↵
3. Ren
इस कमांड के माध्यम से एक या एक से अधिक फाइल्स के नाम को परिवर्तन करने के लिए किया जाता है।
Syntax- C:\>Ren <old name.txt> <new name.txt>↵
4. Cls
इस Command का पूरा नाम क्लियर स्किन होता है, जैसा कि नाम से ही स्पष्ट है, इस कमांड से पूरे स्क्रीन को क्लियर कर प्रथम पंक्ति पर जाने के लिए प्रयोग किया जाता है।
Syntax- C:\>cls↵
5. Dir(Directory)
इस कमांड का प्रयोग डिस्क में उपलब्ध फाइल्स और डायरेक्टरी को देखने के लिए किया जाता है, यह एक महत्वपूर्ण इंटरनल कमांड है।
Syntax- C:\>Dir↵
6. MD(Make Directory)
Md कमांड का प्रयोग डायरेक्टरी या सबडायरेक्टरी बनाने के लिए किया जाता है, Md तथा Mkdir दोनों एक ही कार्य के लिए उपयोगी हैं।
यदि हमें C Promt पर बीएसपी नाम की एक डायरेक्टरी बनानी हो तो निम्न कमांड का प्रयोग करेंगे।
Syntax- C:\>md bsp↵
7. Rd (Remove Directory)
इस कमांड का प्रयोग डायरेक्टरी या सब डायरेक्टरी को फ्लॉपी डिस्क या हार्डडिस्क से हटाने के लिए किया जाता है।
Syntax- C:\>Rd<Dir Name>↵
Example- C:\>Rd bsp↵
8. Cd (Change Directory)
इस कमांड का प्रयोग एक डायरेक्टरी से दूसरी डायरेक्टरी में जाने के लिए किया जाता है, अर्थात डायरेक्टरी बदलने के लिए CD कमांड का प्रयोग किया जाता है।
Syntax- C:\>cd<Dir Name>↵
Example- C:\>cd bsp↵
9. Ver(version)
जब हमें यह जानना होता है कि हम एमएस डॉस का कौन सा वर्जन प्रयोग कर रहे हैं,  तब उसके संस्करण को देखने के लिए “Ver” कमांड का प्रयोग किया जाता है।
Syntax- C:\>Ver↵
10. Copy
कॉपी कमांड का प्रयोग कुछ स्पेशल फाइल को एक ड्राइव/फोल्डर से दूसरे ड्राइव/फोल्डर में कॉपी करने के लिए किया जाता है जहां फाइल को मूल नाम या किसी अन्य नाम से रख सकते हैं।
Syntax- C:\>Copy <source\file name> <destination\file name>↵
11. Del
Del कमांड का प्रयोग कर किसी भी फाइल/फोल्डर को डिलीट कर सकते हैं।
Syntax- C:\>Del <file Name>↵
Example- C:\>Del < bsp.txt>↵

External Commands
External Commands एक तरह के छोटे प्रोग्राम्स होते हैं जो कि डिस्क पर स्टोर होते हैं, जिनको आवश्यकतानुसार एग्जीक्यूट किया जाता है। कुछ प्रमुख एक्सटर्नल कमांड नीचे दिए जा रहे हैं-

1. CHKDSK(Check Disk)
इस कमांड का प्रयोग डिस्क की जांच करने के लिए किया जाता है या कमांड डिस्क की जांच कर महत्वपूर्ण जानकारियां प्रदर्शित करता है। जैसे-
A. डिस्क में कुल कितनी जगह(Space) है।
B. अधिकृत किया गया स्थान तथा फाइलों की संख्या।
C. कुल कितनी डिस्क Space जिसका उपयोग नहीं किया जा सकता।
D. डिस्क का आयतन(Valume)
E. उपयोग हेतु कितनी डिस्क स्पेस उपलब्ध है।
F. डिस्क के बेड सेक्टर द्वारा उपयोग किया गया स्थान।
G. प्रत्येक एलोकेट यूनिट का आकार एवं उनकी कुल संख्या।
2. X Copy Command
इस कमांड का प्रयोग सिस्टम की डायरेक्टरी और सब डायरेक्टरी के अलावा छुपी हुई फाइल्स को कॉपी करने के लिए किया जाता है।
Syntex Xcopy<file name> <Drive\dir Name>
Example Xcopy<Ram> <C:\Manoj\Pooja>↵

3. Print Command
इस कमांड का प्रयोग एक या एक से अधिक फाइल्स को प्रिंटर की सहायता से छपाई(Print) करने के लिए किया जाता है।
Syntax- print <file name>↵
Example- Print c:\ram.txt↵
4. Move
मूव का अर्थ स्थानांतरण होता है, डॉस में इस कमांड से हम एक या एक से अधिक फाइल्स को मूव कर सकते हैं अर्थात् फाइल्स को एक जगह से दूसरी जगह ले जा सकते हैं।
Syntax – C:\>move<file name> <drive\dir name>
5. Diskcomp
इस कमांड का प्रयोग दो फ्लॉपी डिस्क की आपस में तुलना करने के लिए किया जाता है।
Syntax – C:\>diskcomp<source disk> <target disk>
Example – C:\>diskcomp A:B
6. Tree
इस कमांड के द्वारा किसी विशेष डिस्क में समस्त डायरेक्टरी के Path को प्रदर्शित करने के लिए किया जाता है।
Syntex : c:\>tree
7. Deltree
किसी डायरेक्टरी तथा उसमें शामिल सभी सबडायरेक्टरी व फाइल्स को डिलीट करने के लिए Deltree कमांड का प्रयोग किया जाता है।
Syntax: c:\>Deltree<dirname>
8. Undelete
इस कमांड का प्रयोग डिलीट किए हुए फाइल्स को वापस लाने के लिए किया जाता है।
Syntax :
c:\>undelete<deleted file name>
9. Format
इस कमांड से उपयोगकर्ता किसी भी डिस्क को फॉर्मेट कर सकता है, अर्थात Dos में डिस्क को फॉर्मेट करने के लिए इस कमांड का प्रयोग किया जाता है।
c:\>Format <any drive name>
इस कमांड के अंत में उपयोग की जाने वाली विकल्प-
/Q फॉर्मेट प्रक्रिया की स्पीड को बढ़ाता है।
/I फ्लॉपी को एक साइड से ही फॉर्मेट करता है।
/C उन क्लस्टर को चेक करता है जिनको बेड चिन्हित किया गया है।
/S जिस फ्लॉपी को फॉर्मेट की गई उसमे सिस्टम फाइल की भी कॉपी हो जाती है।
10. Append
Append Command Path Command की तरह ही है, जो किसी विशेष फाइल के लिए प्रेजेंट डायरेक्टरी के अलावा अन्य डायरेक्टरी की खोज करता है। वर्तमान डायरेक्टरी ढूंढने के बाद Dos उन डायरेक्टरी में वह विशेष फाइल सर्च करता है जिसका नाम यूजर ने Append Command से ऐड किया है।
Syntax
C:\>Append

Speak Your Mind

*

error: Content is protected !!