What is Bookmark in MS Word 2016? एमएस वर्ड 2016 में बुकमार्क क्या है?

बुकमार्क का वास्तविक मतलब चिन्हित करना होता है, हम अपने डॉक्यूमेंट में विभिन्न पेज से कई विषय वस्तु को रीड करते हैं, पर कई बार ऐसा होता है कि हम एक ही समय में पूरी विषयवस्तु को नहीं पढ़ पाते या हमे ऐसा लगता है कि भविष्य में इसका और भी आवश्यकता पड सकता है तो ऐसी परिस्थिति में हम उस पते (पेज/यूआरएल) को बुकमार्क के रूप में सेव कर लेते हैं ताकि भाविष्य में आसानी से उस स्थान तक पहुच सके ”वास्तव में  Bookmark किसी स्थान या Text का एक नाम ही होता है जिस तक भविष्य में आसानी से जाने के लिए बनाया जाता है, ताकि उसे खोजने में ज्यादा मेहनत ना करनी पड़े” इसलिए उस जगह को एक बुकमार्क के रूप में जोड़ देते हैं।
उदहारण – आप यह लेख पढ़ रहे हैं तो वास्तविक बात हैं कि आपने कभी न कभी कोई न कोई पुस्तक भी अवश्य पढ़ी है, हम सभी जब भी कोई मोटी पुस्तक पढ़ते हैं तो सामान्यतः एक ही साथ/एक ही समय में पूरी पुस्तक नहीं पढ़ पाते तो ऐसी स्थिति में हम उस अधूरे पढ़े हुए पन्नो के बीच पहचान के रूप में कोइ सामग्री जैसे पेन, धागा, या पन्नो को मोड़कर रख देते हैं ताकि भविष्य में फिर उस पुस्तक को खोलने के दौरान आसानी से उस जगह तक पंहुचा जा सके, उस जगह तक पहुचने के लिए जो मार्क/पहचान छोड़ते हैं दरअसल यही उस पुस्तक के लिए बुकमार्क का कार्य करती है

एमएस वर्ड में बुकमार्क कैसे जोड़ें?

👉🏻 सबसे पहले अपने वर्ड डॉक्यूमेंट में जिस जगह बुकमार्क जोड़ना चाहते हैं उस स्थान का चुनाव करें।
👉🏻 इसके बाद Insert टैब पर क्लिक करें
👉🏻 लिंक्स ग्रुप में जाकर बुकमार्क का चयन करें।
👉🏻  यहां इस बुकमार्क के लिए एक नाम देने को कहा जाएगा ताकि बाद में आप इसे खोजना चाहें तो इसी नाम के द्वारा आसानी से खोज सके, आप अपने अनुसार कोई भी संबंधित नाम इस बुकमार्क के लिए दे सकते हैं।
👉🏻  नाम देने के पश्चात Add पर क्लीक करें.. अब आपका बुकमार्क तैयार है।

Speak Your Mind

*