Explain Review Tab/Menu of MS Word 2016. एमएस वर्ड 2016 के रिव्यु टैब/मेनू को समझाइए.


रिव्यू  का मतलब दुबारा देखना अर्थात हमारे द्वारा बनाये गए डॉक्यूमेंट का समीक्षा करना होता है अतः सीधा मतलब यह टैब डॉक्यूमेंट का समीक्षा करता है, रिव्यू टैब को भी अन्य टैब की तरह कई समूहों में विभाजित किया गया है यहां प्रत्येक Group में एक कार्य विशेष से संबंधित Commands होती है, इस टैब का मुख्डॉय उपयोग डॉक्क्यूयूमेंट में हुए गलतियों को संसोधित करने और कुछ महत्वपूर्ण कार्यों के लिए किया जाता है।

Proofing

“Proofing Group” में Word Document के शब्दों से संबंधित Commands होती है, जिसमे सबसे महत्वपूर्ण Command  “Spelling & Grammar” होती है। जिसके द्वारा Word में लिखे हुए Text में होने वाली Spelling और Grammar से संबंधित गलतियों को सुधारा जा सकता है। इसमें एक शब्द के समानार्थी शब्दों को खोजने के लिए “Thesaurus Command” भी होता है, इस ऑप्शन के द्धारा माइक्रोसॉफ्ट वर्ड में किसी वर्ड का पर्यायवाची शब्द पता कर सकते हैं। इसके लिए हम वर्ड का चयन कर इस ऑप्शन पर क्लिक करेंगे। क्लिक करते ही राइट साइड में बाक्स दिखाई देगा जिसमें समानार्थी शब्दों की लिस्ट दिखाई जायेगी।

How To Check Spelling And Grammar स्पेलिंग और ग्रामर चेक कैसे करें? 

वर्ड में “Spelling & Grammar” एक बहुत ही महत्वपूर्ण कमांड है, कई बार डाटा टाइपिंग के दौरान कम जानकारी टाइपिंग मिस्टेक की वजह से कुछ शब्दों का गलत स्पेलिंग टाइप हो जाता है यहां यदि स्पेलिंग का “Error” आता है तो टेक्स्ट के नीचे Red लाइन आ जाती है और ग्रामर “Error” हो तो Blue Line आ जाती है, जिससे उपयोगकर्ता को आसानी से वह शब्द दिख जाती है। इस प्रकार की गलतियों को देखने तथा दूर करने के लिए इस कमांड का उपयोग किया जाता है।

माइक्रोसॉफ्ट वर्ड में  “Spelling & Grammar” Check करने के लिए उन वर्ड का चयन करें जिनका चेक करना हो, चयन करके किबोर्ड से  F7 प्रेस करें या फिर रिव्यू टैब में जाकर इस स्पेलिंग एंड ग्रामर ऑप्शन पर क्लिक करें, अब स्क्रीन में एक बाक्स दिखाई देगा जिसमें स्पेलिंग और ग्रामर सजेशन की लिस्ट दिखाई देगी। यहां ध्यान रखे कभी-कभी ऐसा होता है कि माइक्रोसॉफ्ट वर्ड में वर्ड की डिक्शनरी  मौजूद न होने पर भी बिना किसी एरर के रेड या ब्लू लाइन आने लगता हैं इसको गंभीरता से न लें।
How To Count Words On Microsoft Word 2016 वर्ड में शब्दों को कैसे काउंट करें ?
इसमें एक और कमांड वर्ड काउंट होता है जिसकी सहायता से हम अपने डॉक्यूमेंट में लिखे हुए शब्दों को काउंट कर सकते हैं  साथ ही पैराग्राफ, लाइन, पेज आदि की संख्या ही देख सकते हैं। इसे देखेने के लिए प्रूफिंग ग्रुप से “वर्ड काउंट” पर क्लीक करें।

Insights

MS Word में “Smart Lookup” Option की सहायता से किसी भी शब्द के बारे में Internet से विस्तृत जानकारी खोज सकते हैं।

Languages

लैंग्वेज ग्रुप में हमे अपने डॉक्यूमेंट में लिखे गए शब्दों का ट्रांसलेशन की सुविधा मिलती है मनाकि हमारा दस्तावेज अंग्रेजी मे है जिसका नाॅलेज हमें कम है और कोई बताने वाला भी मौजूद ना हो तो उस स्थिति में हम एमएस वर्ड से डायरेक्ट “Translation Option” का उपयोग कर सकते हैं।  साथ ही हम इस आप्सन के द्धारा विभिन्न भाषाओं में  Translation कर सकते हैं। Translation करने के लिए दस्तावेज के पेज या किसी पार्टिकुलर लाइन या वर्ड का चयन कर लैंग्वेज ग्रुप से “Translate” ऑप्शन पर क्लिक करेंगे, अब  कुछ विकल्प दिखाई देगें जिनके प्रयोग से अलग-अलग भाषाओं में ट्रांसलेशन कर सकते हैं। (यह सुविधा अभी इन्टरनेट कनेक्टिविटी होने पर ही कार्य करती है, जोकि ट्रांसलेट पर क्लीक करने पर ब्राउज़र ओपन होगी और और उसी ब्राउज़र में इन शब्दों की ट्रांसलेशन की प्रक्रिया पूर्ण होगी)

Comments

वर्ड में कार्य के दौरान डॉक्यूमेंट में उपलब्ध किसी विशेष शब्द या शब्दों का समूह को और अधिक समझाने या उसके बारे में कुछ अतिरिक्त जानकारी लिखना चाहते हैं तो इसके लिए “Comment” कमांड का उपयोग किया जाता है। साथ ही हम चाहते हैं कि हमारे द्वारा किया गया कमेंट दस्तावेज में दिखायी न दे तो कमेंट विकल्प का प्रयोग करेंगे। इसका प्रयोग करने के लिए वर्ड या पैराग्राफ को सिलेक्ट करें उसके बाद “New comments” पर क्लिक करेंगे। अब हमारे सामने एक कमेंंट बाक्स दिखाई देगा उसमें अपना कमेंंट देंगे और बाक्स को हाइड कर देंगे। यदि हमें अपने दस्तावेज में लगे कमेंंट को देखना है तो “Show contents” पर क्लिक करेंगे जिससे लगा हुआ कमेंंट हाइलाइट हो जायेगा। साथ ही Previous और Next विकल्प का प्रयोग कर आगे और पीछे लगे कमेंंट को देख सकते हैं।

Tracking

यदि आप कार्यालय या घर में अपने कंप्यूटर को अन्य उपयोगकर्ता के साथ साझा करते हैं तो उस स्थिति में इस कमांड की महत्वता और भी बढ़ जाती है,  जब किसी Word Document में Tracking को एक्टिव किया जाता है तो उस Document में होने वाली Editing को आप Tracking के द्वारा ट्रैक कर सकते है अर्थात उस वर्ड डॉक्यूमेंट में जो भी परिवर्तन होते है उन्हें Word अलग से दिखाता है यदि एक भी शब्द आपके Document में Edit किया गया हो तो उसे भी Tracking के माध्यम से आप देख सकते हैं और अनचाहे उपयोगकर्ता के उपयोग से ट्रैक कर सकते हैं। इस Command की Multi user Systems पर बहुत महत्वता होती है। हम अपने दस्तावेज में “Tracking Password” भी लगा सकते हैं।

Changes

इस ग्रुप का उपयोग डॉक्यूमेंट में किये गए परिवर्तनों को स्वीकार करने(Accept) और अस्वीकार करने(Reject ) के लिए किया जाता है। एक्सेप्ट का अर्थ (डॉक्यूमेंट में बदलाव जोड़ना),  “Accept Command” के द्वारा Document में हुए Changes को Accept(मतलब Changes को Document में Add करना) किया जाता है और “Reject Command” के द्वारा Changes को Document में शामिल नही किया जाता है।

Compare

कम्पेयर मतलब तुलना करना होता है अर्थात जब दो वर्ड डॉक्यूमेंट के मध्य तुलना करनी हो तो इस कमांड का उपयोग किया जाता है। यदि आपके पास एक ही तरह के दो दस्तावेज हैं जिनमे से एक दस्तावेज में किसी उपयोगकर्ता द्वारा कुछ परिवर्तन कर दिया गया हो तो ऐसी स्थिति में इस कमांड का प्रयोग किया जाता है। वर्ड में इस विकल्प का प्रयोग दस्तावेज में हुऐ परिवर्तन और बदलाव को एक ही Screen में Orginal दस्तावेज के साथ कम्पेयर करने के लिऐ किया जाता है।

Protect

Protect ग्रुप के द्वारा Document में की गई “Formatting” को Protect किया जाता हैं, अन्य User के लिए अपने Document को Only Readable बना सकते है। मानाकि हमारे द्वारा बनाये गए दस्तावेज को हमारे अलावा कोई भी किसी भी प्रकार की एडिटिंग और फार्मेटिंग न कर पाये तो इसके लिये “Restirct Editing” आप्शन का प्रयोग करेंगें, इसके द्वारा अपने डॉक्यूमेंट में “Password” लगाकर Editing को सीमित कर सकते है।

Speak Your Mind

*