Explain References Tab/Menu of MS Word 2016. एमएस वर्ड के रेफरेंस टैब/मेनू को समझाइए.


Reference Tab एक बहुत ही मत्वपूर्ण टैब है जब उपयोगकर्ता कोई प्रोजेक्ट बना रहे हैं या फिर कोई बड़ा नोट बना रहे हैं तो इस टैब का प्रयोग अति आवश्यक हो जाता है। वर्ड में ऐसे डॉक्यूमेंट बनाने के बाद रिफरेन्स, बिबलियोग्राफी या कैप्शन वगैरह का प्रयोग किया जाता है जो रिफरेन्स टैब द्वारा ही संभव है। साथ ही इसमें ये बताया जाता है कि आपने कहाँ-कहाँ से ये पेपर बनाने की प्रेरणा ली है या आपके द्वारा लिखी गई चीजों का आधार कहाँ है। अगर आप किसी अन्य पुस्तक, वेब-पेज या रिसर्च पेपर से कोई कंटेंट ले रहे हैं तो उन्हें क्रेडिट देने के लिए भी इसी टैब का उपयोग किया जाता है। MS Word  के Reference Tab   को 03 और ग्रुप में डिवाइड किया गया है-

Table of Contents

 इसका हिंदी मतलब “विषय-सूची” होता है, जब हम कोई पुस्तक पढ़ने के लिए खोलते हैं तो सामान्यतः सबसे पहले विषय-सूची ही देखते हैं जिस से ये पता चलता है कि किताब में कौन सी चीज(Contents) किस पेज पर है। इससे उसे खोजने में पूरी किताब को पलटना नहीं पड़ता। अर्थात Table of Contents Group की सहायता से हम अपने Word Document में आसानी से हिंदी में विषय-सूची Table of Contents यानि Index, जिसे “विषय-सूची” कहते हैं, बना सकते हैं। 

Footnotes 

इसके द्वारा आप अपने Document के बारे में अतिरिक्त जानकारी या परिशिष्ट को जोड सकते हैं. जो आपके Document को और ज्यादा विश्वसनीय बनाता हैं, अर्थात यदि आपने अपने डॉक्यूमेंट में किसी कठिन शब्द का प्रयोग किया है या किसी विषय को आप और अधिक अच्छे से समझाना चाहते हैं परन्तु उसे पेज पर नही लिखना चाहते तो फुटनोट का उपयोग कर सकते हैं।

Citation And Bibliography

इस सेक्शन के अंदर वो कंटेन्ट्स डाली जाती है जिनकी मदद से आपने अपना रिसर्च पेपर या लेख तैयार किया है। Citation जोड़ने के लिए सबसे पहले रिबन के अंदर Citation and Bibliography वाले सेक्सन में जाएँ और फिर Insert Citation पर क्लीक करें। थीक ऐसे ही अपने डॉक्यूमेंट में बिबलियोग्राफी जोड़ने के लिए Bibliography पर क्लीक करें। आप Citations and Bibliography Group द्वारा अपने डॉक्युमेंट के आखिर में References दे सकते हैं।

Caption

 Caption द्वारा आप अपने डॉक्यूमेंट में उपलब्ध  प्रत्येक Image का नाम दे सकते हैं ये इस्तेमाल करना काफी आसान है। माना की आपने अपने डॉक्यूमेंट में एक से ज्यादा चित्र, चार्ट, आदि प्रयोग किये हैं तो Caption के द्वारा आप उसको क्रम में संख्या दे सकते हैं जैसे कि चित्र एक, चित्र दो, चित्र तीन.. इत्यादि। इससे जब भी पैराग्राफ में आप किसी चित्र की बात करें तो कैप्शन के कारण ये आसानी से समझ आ जाएगा कि आप कोंसे चित्र की बात कर रहे हैं। इसके लिए अपने Reference टैब के अंदर जाकर Captions पर क्लीक करें और फिर Insert Caption में जाएँ। जिस तरह हम Document में Table of Contents बनाते हैं. ठीक इसी तरह Captions द्वारा Table of Figures भी बना सकते हैं,  इस Table का कार्य डॉक्युमेंट में मौजूद सभी Pictures को एक सूची में रखना होता हैं।

Index

इसका सामान्य मतलब विषय-सूची होता है आप Document के प्रत्येक पन्ने के लिए अलग-अलग Index बना सकते हैं. जिस तरह आप Table of Contents बनाते हैं, जो पूरे डॉक्युमेंट के लिए होता हैं. बिल्कुल इसी तरह आप एक पन्ने या टॉपिक के लिए भी Index बना सकते हैं. जिसे आप List of Topics भी कह सकते हैं।

Table of Authorities

अपने डॉक्यूमेंट या लेख को बनाने के लिए आपने जिन स्रोतों का सहारा लिया हैं उन सभी Cases, Statutes और Authorities की एक सूची इसके द्वारा बना सकते हैं।

Speak Your Mind

*